नवरात्र के पहले दिन माँ शैलपुत्री की उपासना की जाती है । माँ की उपासना से सुखी और निरोगी जीवन मिलता है।
वास्तु टिप
सुखी और निरोगी जीवन के लिए उत्तर और उत्तर-पूर्व वास्तु दिशा के मध्य से लाल रंग को हटा दें। घर में इस स्थान पर दवाई रखना उपयुक्त है जो आपको हमेशा निरोग रखेगा।
माँ शैलपुत्री की पूजा इस मंत्र के उच्चारण से की जानी चाहिए-
वन्दे वाञ्छितलाभाय चन्द्रार्धकृतशेखराम्।
वृषारुढां शूलधरां शैलपुत्रीं यशस्विनीम्॥
Vaastu-Numerology.com Vaastu Expert Chandresh Sharmaa
#vastushastra #navratri2022 #vastutips #vastuconsultant #vaastuexpert #numerologist
Chandresh Sharmaa
Consult, Like & Share
www.vaastu-numerology.com